Thursday, September 25, 2008

यहूदी होने का मतलब - हिस्सा एक

मैं यहूदी हूँ. लेकिन मैं कभी-कभी इस का मतलब के बारे में सोचती हूँ. इस का तात्पर्य क्या है? मेरी बड़ी-बड़ी बहन जाना के लिए अपना धर्म है. वे सनातनी यहूदी हैं. परन्तु मेरी माँ के लिए अपनी संस्कृति है. क्या मेरा धर्म है? मुझे मालूम नहीं क्या अपनी संस्कृति है? या प्रजाति है? या मैं सिर्फ़ गोरी अमरीकन हूँ? यह बहुत मुश्किल सवाल है. मुझे जवाब कभी-नहीं मालूम हो. मुझे जवाब चाहिए? (मेरे लिए मुझे जवाब नहीं चाहिए मगर दूसरे लोग के लिए...?)

मैं सोचती हूँ की शायद धर्म के बजाय मुझे 'स्पिरिचुअलिटि' हो.

मेरे पिता के माता-पिता यहूदी थे. वे पोलैंड और यूक्रेन से अमरीका गए क्योंकि वे युरप में सते थे. जब वे अमरीका में पहुँच आए तब उनके लिए यहूदी होने का मतलब संस्कृति और धर्म था. उनको विकल्प नहीं था. अगर दूसरे लोगों ने उनकी तरफ़ दिए, उन लोगों ने सिर्फ़ यहूदी देखे. जब लोग मेरी तरफ़ देते हैं, वे कौन देखते हैं?

Please note--I could not get the blog entry to post using "|" to separate sentences; it showed the text without any sentence-ending punctuation such that all the sentences ran into each other. I therefore had to post it using periods. Sorry for any inconvenience this might cause.

तात्पर्य - import, significance
प्रजाति - race
(x) के बजाय - instead of (x)
सतना - to be oppressed
विकल्प - options
किसी की तरफ़ देना - to look at someone

1 comment:

Paliakara said...

Period at the end of every sentence is perfectly correct5. Use of "I" is now out dated.